Skip to main content

HIDDEN FIGURES फिल्म की कहानी | स्टोरी इन हिंदी | Hindi Story

HIDDEN FIGURES HOLLYWOOD MOVIE IN HINDI 



हिडन फिगर्स , अफ्रीकन अमेरिकन महिलावोंकि कहानी है। NASA केलिए कीगयी उनकी योगदान को बहुत समय तक प्रचालित नहीं कियागया था । हालाँकि फिल्म तीन, महिलाओंकी कहानी केहती है पर जैसे सभी फिल्मों मै होता है वैसे ही इस फिल्म मै भी मुख्य तोर पर, कैथरीन जोनसन की स्टोरी को बताया गया है। शायद ये पूरी फिल्म इसी एक किरदार के ऊपर बन सकती थी। लेकिन असली, कैथरीन जोनसन , जोकि अब पुरे १०० वर्ष की आयु वाली महिला है , उन्होंने इंसिस्ट किया की फिल्म की कहानी, उनके सहयोगीयोंके बारे मै भी हो। उनकी निवेदन थी अदि आप मेरे जीवन पर फिल्म बनारहे हो तो, वो सिर्फ मेरे बारे मै नहीं होगा। हम एक टीम थे। वो बेहतरीन टीम थी। तो इसीलिए स्क्रीन राइटर्स ,ने उनकी दोस्त डोरोथी वॉघन और मैरी जैक्सन की कहानी को भी , फिल्म मै इस्तेमाल किया ।


फिल्म की शुरुवात होती है ,1926 में व्हाइट सल्फर स्प्रिंग्स, वेस्ट वर्जीनिया में । एक बच्ची , कैथरीन जॉनसन, स्कूल की एक क्लास मै इंतजार कर रही थी. जबकि उसके माता-पिता, एक टीचर से भेंट कर, होशियार बच्चों केलिए होनेवाली अलग स्कूल्स के बारे मै बात करते है। कैथरीन अपने उम्र केलिए बहुत ही इंटेलिजेंट थी। वो एक गणित की प्रतिभा थी। वो उच्च विद्यालय के बीजगणित के समीकरणों को आसानी से हल करती थी जो उच्च विद्यालय के छात्रों को भी कठीन साबित होते थे।

वर्ष १९६१ मै. कथरीन, विर्जिनिया के एक रोड पर अपने सहयोगी, डोरोथी और मैरी के साथ खाड़ी हुवी होती है। क्यूंकि उनकी कार ख़राब होचुकी होती है। वो तींनों , हमेशा ऑफिस केलिए एक ही कार से जाते थे। एक पुलिस अफसर आके उनसे, पेहचान मांगता है। जब वो बताती हैं की वो तीनों , NASA मै काम करती है तो वो सरप्राइज होता है की नासा मै काली महिलावों कोभी काम पर रखता है। उसे NASA मै काफी दिलचसभि होती है वो उन्हें बताता है की अमेरीकियों को , रूसियों को स्पेस रेस मै हराना है। वो पूछता है की क्या वो किसीभी एस्ट्रोनॉट से मिली है? उसपर मैरी , उस पुलिस अफसर की खिंचाई करते हुवे कहती है हां बिलकुल मिले हैं। हालाँकि वो कभीभी नहीं मिलीथी। डोरोथी कार को ठीक करती है और वो पोलिसवाला उनको NASA ऑफिस तक छोड़ने आता है। 


NASA मै स्पेस टास्क ग्रुप की एक मीटिंग चलरही होती है जहाँ वो बात करते रहते है की कैसे रूस को स्पेस रेस मै हराया जाए. रूस ने अबतक स्फुटनिक १ नामक उपग्रह को लांच किया हुवा होता है। उनको इसबात की फिक्र रहती है की यदि रूस, स्पेस को हासिल करलिया तो वो ऊपर से ही अमेरिका पर जासूसी कर सकते है। ये उनदिनों की बात है जब शीतल युद्द अपने चरम पर था। NASA का डायरेक्टर, अल हैरिसन स्पेस प्रोग्राम का इंचार्ज था। NASA मै भी , बाकि सभी सरकारी विभावों की तरह हर विभाग भी सेग्रीगेटेड थी यानी सफ़ेद लोगों केलिए अलग सुविधांए और काले लोगों केलिए अलग।


कथरीन और उसके जैसे चालीस और महिलाएं , वेस्ट एरिया कंप्यूटर विभाग मै काम करती थी। डोरोथी इनकी लीडर थी। मैरी , इंजीनियर बनना चाहती थी पर अब वो सिर्फ इंजीनियर को सहायता करती थी। अमेरिका मै स्कूल भी अलग अलग थी। विर्जिनिया के इंजीनियरिंग कॉलेज मै काले छात्रावों शिक्षा पाने इज़्ज़ाज़त नहीं थी। इसलिए मैरी , चाहते हुवे भी इंजीनियर नहीं बन पायी। उसने सिर्फ़ साइंस की डिग्री हासिल की थी। सारी लेडीज , कम्प्यूटर्स के नाम से जाना जाति थी क्यूंकि वो सभी दिनभर , गणित की गणना करती थी। आजकल, स्कूल के बच्चे भी कैलकुलेटर इस्तेमाल करते हैं। ये वो ज़माना था जब NASA के पास कोयी कम्प्यूटर्स नहीं था। सारे गणित की गणना , हात से ही किया जाता था। और वो सारा , गणना ये , काले लेडीज किया करते थे।


एक दिन , विवियन जैक्सन ,जोकि इन लेडीज की सुपरवाइज़र थी वो आके डोरोथी से केहती है की स्पेस टास्क ग्रुप को एक गणितज्ञ चाहिए। डोरोथी,कथरीने को भेजती है क्यूंकि गणित मै वो सब से बेस्ट थी। विवियन , कैथरीन को लेके ऑफिस जाती है। जाते समय उसे बताती है , लेडीज को वहां स्कर्ट्स पहनना अनिवार्य है. और जेवलेरी पहनना मन है। विवियन केहती है, आजतक वहां कोई, काली महिला ने काम नहीं किया है , ये तुम्हारे लिए एक बेहतरीन अवसर है। उस ऑफिस मै सारे लोग पुरुष थे , सिर्फ़ एक महिला थी। ऑफिस के सारे कर्मचारी उसको देखकर, उसे सफाई करनेवाली समझकर सारा कूड़ा उसे देते है। बाद मै वो अपना परिचय देती है।




कथरीन को बहुत सारा काम मिलता है। पॉल स्टैफ़ोर्ड ,जो एक साइंटिस्ट होता है वो , कैथरीन की मौजूदगी से कुश नहीं होता क्यूंकि , कैथरीन को सरे लोगों का गणित , रे चेक करने का काम दियागया होता है। पॉल को लगता है उसका गणित हमेशा ही सही होता है उसे , रे चेक की कोयी जरुररत नहीं है। पर फ़िर भी वो आदेश मनाता है और कैथरीन को एक बड़ा फाइल देता है, डाटा री चेक केलिए। उसमे से कुछ , विषयों को काली शाही से ढक दिया होता है। क्यूंकि उस विषय को जानने केलिए , सुरक्षा निकासी चाहिए जो, कैथरीन के पास नहीं होती। कैथरीन पूछती ही फ़िर वो कैसे री चेक करे तो पॉल बताता है , जितना चेक करसकती हो उतना करो बाकि छोड़दो। पॉल उसे हल्के मै लेता है।

डोरोथी , विवियन से पूछती है की क्या उसे , प्रमोशन मिलसकता है ? क्यूंकि सारा सुपरवाइज़र का काम तो वही कररही थी। विवियन उसे बताती है की नहीं , NASA मै ऐसी चीज़ें मै बदलाव धीरे धीरे आता है उसे धैर्य रखना चाहिए। डोरोथी निराश होती है। १९६१ मै पहली बार, NASA , IBM 7090 कंप्यूटर को गणित की गणना केलिए खरीदता है। उसकी कीमत उस समय ३ मिलियन डॉलर थी और मशीन पूरी रूम की जगह लेती थी। जब NASA ने उसे ख़रीदा तब, NASA मै उसे प्रोग्राम करने केलिए इंजीनियर को काफ़ी मुश्किल आरही थी। प्रोग्रामिंग नाकरने के कारण , NASA के डिडेक्टर ने सभी इंजीनियर की सैलरी रोकके रखी थी। डोरोथी को IBM के बारे मै पता चलता है की ए मशीन , लाखों गणनावों को मिनिटों मै करलेता है। उसको को लगा अब उसकी और बाकि लेडीज की जॉब इससे जासकती है।


अमेरिका मै सभी सरकारी विभाग मै वाश रूम भी अलग अलग थी। कैथरीन काम करनेवाले बिल्डिंग मै कोई भी,ब्लैक वाश रूम नहीं थी। कैथरीन वाश रूम केलिए आधे किलोमीटर दूर, वेस्ट कंप्यूटर विभाग को जाना पड़ता था। उसके ऑफिस मै कॉफ़ी भी अलग अलग था। इससे वो बहुत परेशान रहती थी। एक दिन , NASA के डायरेक्टर अल हैरिसन , बोर्ड पर एक गणित की समस्या को लिखकर किसी कोभी सुलझाने की चैलेंज देते है। लेकिन कोई सुलझा नहीं पाता। फ़िर, कैथरीन लांच ब्रेक के दौरान उस समस्या को सुलझाती है। 

हैरिसन आके, कैथरीन से पूछता है की उसने कैसे सुलझाया किया ? क्यूंकि उसे सुलझाने मै जो डाटा चाहिए, वो बिना सुरक्षा निकासी से नहीं मिलसकता। वो पूछता है की क्या वो रूस की जासूस है ? . कैथरीन बताती है की कुछ पार्ट को उसने जो डाटा , पता था उससे सुलझाया और जो डाटा , काली शाही से ढक दिया गया था उसे उसने, लाइट के सामने रख के पड़लिया। कैथरीन की लेडी सहयोगी , हैरिसन को विश्वास करती है की वो कोयी जासूस नहीं है। इससे हैरिसन ,अब सारे डाटा बिना काली शाही के कैथरीन को देने केलिए कहता है।

एक रविवार को ये तीनों लेडीज , चर्च जाते है। दोपहर मै एक पार्टी को जाते है। वहाँ पर कैथरीन , जिम झांसों नामक एक , मिलिट्री अफसर से मिलती है। वो दोनों कुछ बाते करते है और वो अच्छे दोस्त बन जाते है। कैथरीन का पहला पति जेम्स गोबल , ब्रेन टोमर की वजह से गुजरगया होता है। कैथरीन की तीन बच्चे होते है।

विवियन , मैरी के पास जाके केहती है की , इंजीनियरिंग की जॉब की योग्यता अब बदलदिगयी है,उसकेलिये उसे डिग्री लेनी होगी। मैरी , साइंस ग्रेजुएट थी , विर्जिनिया मै ब्लैक गर्ल्स को उस समय इंजीनियरिंग की शिक्षा लेने की अनुमति नहीं थी। मैरी अब , विर्जिनिया राज्य सरकार के खिलाफा कोर्ट जाती है। कोर्ट मै बताती है उसके पास, इंजीनियर बनाने के सारे योग्यता है पर सिर्फ़ , काली महिला होने के कारण उसे , इंजीनियरिंग की शिक्षा से वंचित रखा जा रहा है। 

जज , केहता है की, ये वर्जिनिया राज्य का लॉ है और लॉ को वो नहीं बदल सकता। मैरी , जज से केहती यदि आप चाहते हैं आपका नाम १०० साल बाद भी कोई याद रखें , तो मुझे अनुमति दीजिए । जज , मैरी से संवेदना रखते हुवे सिर्फ, नाईट स्कूल को जाने की अनुमति देता है। मैरी , इससे बेहद खुश होती है।


डोरोथी और बाकि लेडीज को IBM के कारण जॉब जाने की चिंता होती है। इसलिए IBM की प्रोगरामिंग को सीखने केलिए, डोरोथी पुस्तकालय जाती है, अपने बचों के साथ। कुछ लोग सड़क पर रंगभेद के ख़िलाफ़ नारे लगारहे होते है। पुलिस उनको दबाने की कोशिश कररही होती है। अमेरिका मै उनदिनों रंगभेद हर जगह था। काले लोगोंको , सार्वजनिक बस मै पीछे बैठना पड़ता था। पुस्तकालय मै, किताबें भी काले और सफ़ेद , सेक्शन के हिसाब से रखीजाती थी। डोरोथी, को जो बुक चाहिए वो सफ़ेद सेक्शन मै होता है। 


जब वो उसे लेनेजाति है , तो एक, सफ़ेद महिला, सुरक्षा कर्मी को शिकायत करके, डोरोथी और उसके बच्चों को बाहर निकलवाती है। डोरोथी , फ़िर भी उस बुक को बिना पूछे उठाके के लाती है। जब उसका लड़का उससे पूछता है की उसने चोरी क्यूंकि तो वो बताती है की ये सार्वजनिक पुस्तकालय है , उसे बनाने केलिए मैंने भी टैक्स दिया है। ये चोरी नहीं है।



एक शाम को कैथरीन और जिम जोनसन , अपने दोस्तों के साथ डांस करते रेहते है। तभी रेडियो पर एक , आपातकालीन न्यूज़ प्रसारित होता है। न्यूज़ मै ए बताते है की , रूस के आर्मी मेजर, यूरी गगरियान अंतरिक्ष मै जानेवाले पहले इंसान बन गए है। गगरियन, १२ अप्रैल १९६१ को , स्पेस मै पृथ्वी के एक चक्कर लगाया। इसके बाद नासा, मे हड़कंप मच जाता है। नासा के डायरेक्टर हैरिसन , सभी कर्मचारियों को बुलाकर, ओवर टाइम काम करने केलिए कहते है। वो अपने कर्मचारियों को निराश ना, होते हुवे सिर्फ अपने काम पर ध्यान देने को कहते है। अब सभी लोग कड़ी मेहनत से काम करना शुरू कर देते है।


एक दिन , कैथरीन अपने काम को देर से आती है , हैरिसन को कुछ फाइल्स तुरंत मै चाहिए था ना मिल्ने पर वो कथरीने पर भड़कता है। अब , कैथरीन भी गुस्से मै कहती है की वो वाश रूम गयी थी जो वहां से आधे किलोमीटर दूर है। उसे इस ऑफिस मै कॉफ़ी भी नहीं मिलती। वो NASA मै हो रही रंग भेद के बारे मै, हैरिसन से शिकायत करती है। हैरिसन को नासा की गलती समाज आती है और वो तुरंत, वेस्ट कंप्यूटर विंग को जाकर सारे काले वाश रूम वाली बोर्ड्स को, बड़ी सी हतोड़ा लेके गिरता है और कहता है आज के बाद नासा मै कोयी भी रंगभेद नहीं होगा।


रूस के , पेहले इंसान को स्पेस मे , भेजने के एक महीने के भीतर ही यानी ५ मई १९६१ को , नासा ने भी , अपना पेहला , इंसानी स्पेस मिशन , केप कनवरल से भेजा। ऑस्ट्रोनोट , एलन शेपर्ड , स्पेस मे जानेवाले पेहले अमेरिकी बने। उनका स्पेसक्राफ्ट का नाम फ्रीडम ७ था, जिसको रेडस्टोन नामक , राकेट से उड़ाया गया था। उनका ए मिशन एक टेस्ट मिशन था। जो नासा के लॉन्चिंग कैपेसिटी को साबित करने केलिए था। यूरी गगरियाना ने पुरे पृत्वी के चक्कर लगाया था, पर शेपर्ड की मिशन सिंपल थी, वो धरती से उड़ेंगे , ऊपर १८७ किलोमीटर जाकर, नीछे आजायेंगे। इस मैं सिर्फ़ १५ मिनट का वक्त लगा। उनका मिशन सिर्फ स्पेस को छूना था। इसके बड़े माईने थे। यदि आपका राकेट स्पेस ताक जा सकता है, तो आप उसी राकेट से ऑटोमिक बोम्ब को भी लांच कर सकते है। 


ए अमेरिकी राकेट की कैपेसिटी दिखलाती थी , जो दुनिया को बता रही थी की वो , अमेरिका से ही रूस पर ऑटोमिक बम अब डाल सकता है। इससे पहले , बड़ी विमानों से बॉम्ब डालेजाते थे। इस सफलता से सारे अमेरिका मै जशन का माहौल था। रास्ट्रपति कैनेडी ने, जुलुस निकालकर ऑस्ट्रोनॉट का स्वागत किया और चाँद पर इंसान को भेजने वाले नासा के मिशन को हरी झंडी दी। इससे नासा मे सब खुश हुवे। कैथरीन की गणनाएं भी सठिक थी।


जुलाई २१, १९६१ को नासा ने , फिर एक बार, इंसानी स्पेस मिशन उड़ाया। इस बार गस ग्रीसम , नामक ऑस्ट्रोनोट ने उडान भरी। ये भी एक टेस्ट मिशन था जो लिबर्टी बेल्ल, नामक स्पेसक्राफ्ट का परिक्षण करने केलिए था। मिशन कामियाब हुवा, पर जब गस ग्रीसम , समुन्दर मै लैंड किए तब, तकनिकी कारणों से उनका स्पेसक्राफ्ट पानी मे डूबगया। अमेरिकी पार्लियामेंट की सुनवाई मे ने हैरिसन कहा की, हम अपने गलतियों से ही सिखते है। इस मिशन से काफी सीखने मिला है , इसका इस्तेमाल हम अगले मिशन पर करेंगे। अब नासा एक बड़े प्रोजेक्ट को हाथ मे लेते है। झोन ग्लेन नामका ऑस्ट्रोनोट को , इसबार पृथ्वी की पूरी चक्कर लगाने का मिशन था।

नासा साइंटिस्ट , पॉल स्टफर्ड इस का प्रॉब्लम समजाते है। पहले दो मिशन मे , स्पेसक्राफ्ट की रफ़्तार काम थी , इसलिए वो , स्पेस को छुकर नीछे आगयी। इसबार जब बहुत ज्यादा रफ़्तार से स्पेसक्राफ्ट को उड़ाएंगे , तो वो पृत्वी के , गुरुत्व बल को छोड़कर , स्पेस मे पृत्वी के चक्कर लगाता रहेगा। उस स्पेसक्राफ्ट को एक , निर्दिष्ट स्थान पर , पृत्वी की ओर वापस लाना होगा। यदि वो उस स्थान से पहले वापस लाएंगे , तो आते वक्त वो हवाके कारण जल जायेगा। यदि उसे उस स्थान के बाद वापस लाएंगे तो वो स्पेसक्राफ्ट , स्पेस मे उड़ जायेगा। उस एक स्थान को , वो, जावो या नाजावो कहकर बुलाते है। उस पॉइंट को ढूंढने का गणित उनके पास अभी नहीं होता है। उस पॉइंट केलिए कई सारे डिफ्रेंशियल समीकरणों को सुलझाना होगा जोकि बहुत कठिन काम है।


कैथरीन कहती है , की उस पॉइंट केलिए अंडाकार पथ से अर्ध गोलाकार यानि एलेक्पतिकाल ऑर्बिट से पैराबोलिक ऑर्बिट को आना होगा। जावो या ना जावो स्थान , स्पेसक्राफ्ट की वज़न, रफ़्तार ,दुरी, टाइम, घर्षण आदि की बदलाव से, बदल सकता है। और उस हिसाब से उन्हें फिर से उस स्थान की गणना करनी पड़ेगी। कुछ दिन बाद वो , यूलर पद्दति से उस समस्या का हल निकालती है।

डोरोथी , अब FORTRAN प्रोगरामिंग लैंग्वेज जो सीख रही थी उसे टेस्ट करने केलिए , IBM मशीन रूम मै जाती है, और IBM पर अपना डाटा डालती है। वो काम करने लगता है। उस रूम का मैनेजर आके , उसे बिना परमिशन के उस मशीन को चलाने पर , डांटता है। पर जब वो देखता है की मशीन काम कर रही है तो वो उससे खुश होता है , क्यूंकि उनको उसे प्रोग्राम करने मै काफी दिक्कत आरही थी।

 उन्हें काबिल प्रोग्रामर्स की तलाश थी, वो डोरोथी को नया जॉब ऑफर करते है। डोरोथी कहती है , ए बहुत बड़ी मशीन है , इसे चलाने केलिए , बहुत सारे लोग चाहिए। वो कहती है , उसने अपने लेडीज की टीम को इस प्रोग्राम की ट्रेनिंग दिया है , वे सभी इस मशीन को चला सकते है। यदि नासा उनसब को काम पर रख लेगी तो , तो वो ज़रूर इस मशीन पर काम करेगी। डोरोथी और उसकी पूरी टीम को नासा ,काम पर रखलेती है।


कथरीन एक रिपोर्ट लिखती है और अपना नाम ,शीर्ष पर लीखती है। पॉल उसे ऐसा नहीं करने के लिए कहता है क्योंकि वो सिर्फ़ , एक कैलकुलेटर है और उसके नाम से रिपोर्ट जमा नहीं हो सकते हैं। कथरीन, अल हैरिसन से केहती है , झोन ग्लेन की उडान को तय करने की मीटिंग्स मै उसे भी शामिल करलिया जाय। क्यूंकि वहाँ , चीज़ें तेज़ी से बदलती है , हर बदलाव से, जाव या ना जाव की स्थान बदलता है, और उसे ए बदलाव तुरंत नहीं मिलरही , इसलिए सब कुछ देरी से हो रहा है । अल हैरिसन , बताते हैं कि उन बैठकों में महिलावों को शामिल होने के लिए कोई प्रोटोकॉल नहीं है। लेकिन वह कहती हैं कि पृथ्वी पर चक्कर लगाने वाले एक आदमी ही होना चाहिए इसका भी कोई प्रोटोकॉल नहीं है। पॉल के विरोध के बावजूद, हैरिसन उसे मीटिंग मै बैठने देता है।

जॉन ग्लेन और उनके चालक दल के साथ कैथरीन ,अपनी पहली बैठक में भाग लेती है। मीटिंग मै ही वो , लैंडिंग साइट का कॅल्क्युलेशन्स करके सब को इम्प्रेस करती है। खासकर झोन ग्लेन को।

अब IBM मशीन सारे कॅल्क्युलेशन्स तेज़ी से कर रहा था , तो , कैथरीन की ज़रूरत अब नहीं थी। अल हैरिसन , उसे बुलाके , उसकी सेवा केलिए धन्यवाद कहता है। ऑफिस के सारे स्टाफ उसे एक मोती का हार गिफ्ट देते है।

जॉन ग्लेन के लॉन्च का दिन, विवियन बाथरूम में डोरोथी से मिलती है। वह डोरोथी से उसे कभी भी सुपरवाइसर ना बनाने के लिए माफी मांगती है और केहती उसने कभी भी उसके साथ अलग व्यवहार नहीं किया क्योंकि वह काली है।बाहर जाने से पहले, डोरोथी दयनीय रूप से पूछती है, "क्या आप वास्तव में ऐसा मानते हैं ।"

जॉन ग्लेन की लॉन्चिंग को देखने के लिए पूरी दुनिया में हुजूम उमड़ पड़ता है । कैथरीन अनुसंधान विभाग में है। नियंत्रण केंद्र में एक समस्या उत्पन्न होती है-जॉन की उड़ान के लिए IBM की गणना पिछले दिन से मेल नहीं खाती है, इसलिए उन्हें पता नहीं है कि कक्षा के प्रक्षेपण और लैंडिंग के लिए कौन सा निर्देशांक निर्धारित करना है। । जॉन अनुरोध करता है कि कैथरीन के हाथ से गणित चेक कराया जाय क्योंकि वह स्मार्ट है। हैरिसन , कथरीन के पास सारे डाटा भेजता है। 

अब कथरीन फ़िर से समीकरण पर काम करती है जब तक कि वह सही नहीं हो जाता। सही गणना कर के वो रिजल्ट हैरिसन को देने जाती है। उसे वापस नियंत्रण केंद्र पर ले जाया जाता है और रिजल्ट हैरिसन को सौंप दिया जाता है, जो अंदर है। सारा गणना करने के बावजूद, कैथरीन को नियंत्रण केंद्र मै नहीं जाने दिया जाता क्यूंकि उसके पास सुरक्षा क्लीरेंस नहीं है। कथरीन निराश होकर जारही होती है तभी हैरिसन बहार आकर उसे अंदर बुलाता है।

पचास लाख लोग टेलीविज़न पर लिफ्टऑफ़ देखते हैं। झोन ग्लेन , पृथ्वी के तीन चक्कर लगाकर , उसी जावो ना जावो , स्थान पर आकर , पृथ्वी की और वा पास आने लगते है। उन्हें आने मै कुछ तकनीकी दिक्कत आती है , पर वो सही सलामत उसी जगह आते है , जहँ की गणना कथरीन ने की थी। नासा मै सभी मिशन की सक्सेस से खुश है। कथरीन भी अब खुश थी।

मिशन के बाद डोरोथी को पता चलता है कि उसकी सभी लेडीज को नौकरी से निकालदिया गया है। क्यूंकि अब IBM , कंप्यूटर है तो नासा को , उनकी ज़रूरत नहीं थी । लेकिन डोरोथी को अनुसंधान केंद्र के विश्लेषण और संगणना विभाग में रख लियागया था । विवियन , डोरोथी को वहां का सुपरवाइज़र के तोर पर प्रमोशन देती है। अब वो दोनों अच्छे दोस्त बनते है। मैरी उसकी इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करती है और इंजीनियर बन जाती है। उसे भी नासा हमेशा केलिए ,काम पर रख लेता है। केथरीन, ज़िम जोनसन , से शादी करती है।

कैथरीन को नासा , अब परमानेंट तोर पर सभी उड़ानों का मैन्युअल , गणना करने केलिए रख लेती है। कैथरीन ने चंद्रमा पर 1969 की अपोलो 11 की उड़ान के लिए गणना की और अपोलो 13 पर भी काम किया । उन्हें 2015 में, अमेरिकी सरकार की उच्चतम अवार्ड , प्रेसिडेंशी अल मैडल ऑफ़ फ्रीडम ,से सम्मानित किया गया 2016 में, वर्जीनिया लैंगले मै , जहाँ केथरीन ने काम किया था उस रिसर्च सेंटर नाम बदलकर ,कैथरीन जी जॉनसन कम्प्यूटेशनल रिसर्च फैसिलिटी कर दिया गया।




Tags : फिल्म की कहानी ,स्टोरी इन हिंदी,Hindi Story, Hindi spoilers, Hollywood film ki kahani,film ki story.

Comments