THE UPSIDE IN HINDI | फिल्म की स्टोरी | स्टोरी इन हिंदी | हॉलीवुड

THE UPSIDE IN HINDI |  फिल्म की स्टोरी  | स्टोरी इन हिंदी | हॉलीवुड 

 

फिल्म की शुरुआत होती है शिकागो में। डैल और फ़िलिप नाम के दो आदमी  एक लग्जरी स्पोर्ट्स कार में बैठे हैं। डैल फ़िलिप को लेकर एक चक्कर मारने के लिए निकला है। वह  फ़िलिप से 100 डॉलर की शर्त  लगाता है की वो  पुलिस से बचकर निकल जाएगा। अब  गाड़ी तेज़ भगाता है , कुछ देर तक पुलिस से बचकर निकल जाता है। लेकिन बाद में पुलिस उसे पकड़ लेती है। डैल पुलिस से झूठ बोलता है कि वह फ़िलिप को हॉस्पिटल ले जा रहा था। कहता  है कि फ़िलिप को दौरे पड़ रहे थे,  इसलिए वह एम्बुलेंस का वेट करने के बजाए  अपनी गाड़ी में उसे लेकर जा रहा था।  अब पुलिस  अस्पताल तक उन्हें  छोड़ने जाती है। अब फिल्म 6 महीने  पहले शुरू होती है।


डैल एक अपराधी था जो अभी-अभी जेल से छूटा था। उसे पैरोल पर छोड़ दिया गया था। उसकी कंडीशन थी की उसको  जेल अफसर द्वारा  दी गई कामों को करना होगा। जेल अफसर उसको तीन जगह नौकरी करने के ऑप्शन देते है।  लेकिन उनमें से कोई भी जॉब उसे पसंद नहीं था । ऑफिसर कहती है कि यदि वह कल शाम तक नौकरी देने वालों की तरफ से, वो नौकरी केलिए लायक नहीं है ऐसा  सिग्नेचर लेकर नहीं आया तो उसे फिर से जेल में डाल दिया जाएगा।


डैल को कहीं भी काम करने की इच्छा नहीं था। वो नौकरी के ऑफर को लेकर उन दुकानों  पर जाता है। सभी लोगों से कहता है कि उसे वहां काम करने का इच्छा नहीं है,  वह सिर्फ  पेपर पर साइन चाहता है।   वो लोग भी सिग्न करके देतें है , उन्हें भी  अपराधी को रखना नहीं था। डैल का  तीसरा  नौकरी  एक अमीर आदमी के घर पर था। उस आदमी का नाम फ़िलिप लुकास था।


अब डैल फ़िलिप के घर जाता है जो एक बहुत ही अमीर आदमी था। उसके घर में काम के लिए दर्जनों और लोग भी आए। थे। डैल को  लगता है कि सफाई करने के लिए इतने सारे लोग क्यों आए हैं ? वो अपनी नंबर आने का वेट करने लगता है। उसे अपने बेटे को स्कूल से भी लेकर आना था। इसलिए वह बेचैन हो रहा था। तभी वो उस अमीर आदमी के घर में एक  चक्कर लगाता है, देखता है कि कैसा है ? . वो बहुत बड़ा घर था। जब कोई  नहीं होता तब वहां के लैब्ररी से एक बुक  को चुराता है।  कुछ देर बाद भी जब उसका नंबर नहीं आता  तब वह गुस्सा होकर अपनी इंटरव्यू जबरदस्ती देने के लिए जाता है।


फ़िलिप और उसकी असिस्टेंट ईवन  वहां पर आए लोगों का इंटरव्यू ले रहे थे। बेसिकली फ़िलिप एक विकलांग आदमी था।  एक एक्सीडेंट में उसकी चलने फिरने की ताकत खत्म हो गई थी। वह सिर्फ अपनी मुँह  को और गर्दन को हिला सकता था। गर्दन के नीचे का पूरा भाग बिल्कुल काम नहीं करता था। वो उसे  महसूस भी नहीं कर सकता था। फ़िलिप को एक ऐसी आदमी की जरूरत थी जो उसके साथ 24 घंटे रह कर उसका देखभाल करें। उसे  खाना खिलाना होगा ,  उसे नहाना होगा ,यदि  घर से बहार जाना चाहे तो उसे लेकर जाना होगा ।


डैल को इसके बारे में कुछ भी पता नहीं था। उसे  लगता था की उसे , सफाई का काम करना है। वो सीधा सीधा, फ़िलिप से उसके पेपर्स पर sign  करने केलिए कहता है।  फ़िलिप पूछता है की क्या उसे जॉब चाहिए या नहीं ? डैल कहता है की उसे चाहिए पर उसे इस जॉब का कोई एक्सपीरियंस नहीं है , वो  नहीं  कर पायेगा।


फ़िलिप और ईवन  को पता चलता है कि वो  एक अपराधी है। अब फिर भी फिलिप उसे जॉब  ऑफर करता है , वो कहता है की उसके पास कल सुबह 9:00 बजे तक का टाइम है। यदि वह काम करना चाहता है तो कल सुबह 9:00 बजे आ जाए। वरना वो पेपर साइन करके दे देगा। इस पर इवान  थोड़ा नाराज होती है। वह कहती है कि यह आदमी इस काम के लिए बिल्कुल लायक नहीं  है,  पर फ़िलिप उसकी बात को नजरअंदाज करता है।


अब डैल अपने घर को जाता है वह इतने साल जेल में रहकर अब बहार निकला था। उसकी बीवी, लेट्रिस  और उसका बेटा अन्थोनी एक स्लम  जैसे अपार्टमेंट में रेहते थे। डैल अपने घर में जाकर अपने बेटे को वो किताब गिफ्ट पर देता है, आज उसकी बर्थडे था । उसकी पत्नी  लेट्रिस उससे नाराज थी , उसे पैसे की तंगी थी और वह उसकेलिये डैल को  जिम्मेदार ठहरती है । उसपर गुस्सा करती है और कहती है कि वह उस घर में नहीं रह सकता। उसे  अपने घर से बाहर निकालती है।


डैल अपने बैग को  लेकर अपने पुराने दोस्तों के गली में जाता है। वह ड्रग्स के धंदे में अंदर गया था।  उसके दोस्त  उसे फिर से ड्रग्स के धंधे में आने के लिए कहते हैं। डैल इस बार उन्हें सीधा मना करके चला जाता है।


अगली सुबह 9:00 बजे वह फिर से फ़िलिप कि घर जाता है और कहता  है कि वह काम करने के लिए तैयार है। लेकिन इवान  कहती है उसकी कोई जरूरत नहीं है। उसकी पेपर्स को वो  साइन करके दे देगी और वो उसे लेकर  वहां से चले  जाये । डैल पूछता है कि क्या फ़िलिप यही चाहता है ? इवान केहेती है की नहीं वो उसे ही चाहता है। अब डैल कहता है की यदि फ़िलिप चाहता है तो वो काम करेगा।


इवान उसे केहेती है, फिलिप सिर्फ तुम्हे ही  चाहता है, क्यूंकि तुम योग्य नहीं हो ।  फिलिप एक अच्छा आदमी  है , एक बीमार आदमी है  उसकी देखभाल एक प्रोफेशनल से होनी चाहिए।  अब इवान, उसे एक कंडीशन पर  काम करने इजाजत देती है। डैल को तीन मौके मिलेंगे यदि उन तीन मौकों में वो  फेल हो गया तो उसे  नौकरी से निकाल दिया जाएगा।  


इवान  उसे घर का दौरा कराती है, वह घर एकदम आलीशान घर था।  डैल ने अपनी जिंदगी में ऐसा घर  नहीं देखा था। इसके लिए एक जबरदस्त कमरा भी रखा था। इवान  उसको एक पेजर  देती है , जिसे चौबीसों घंटे उसे अपने साथ रखना होगा।  फ़िलिप जब भी आवाज़ लगाएगा तो  उसे  सुनाई देगा। डैल  अभी भी सीरियस नहीं था , उसे अंदाज़ नहीं था की काम कितना मुश्किल होने वाला है। 


पहले दिन उसका काम फ़िलिप को बिस्तर से उठा  कर कुर्सी पर बैठा ना था और उसे खाना खिलाना था।  फ़िलिप की देखभाल के लिए एक नर्स भी थी, जिसका नाम मैग्गी था , जो सुबह आकर कैथिटर लगाती थी।  वो अब उस काम को डैल कोभी सिखाती है। फ़िलिप , डैल से पूछता है कि वह DNR के बारें में क्या जनता है ? डैल को कुछ पता नहीं था।  फ़िलिप उसे बताता है कि यदि उसे सांस लेने में कोई तकलीफ होगी तो वो उसे मदद नहीं करेगा ,उसे उसकी हालत पर छोड़ देगा।  इसीको DNR  कहतें है do-not-resuscitate. डैल कहता है कि वो जो चाहेगा वो वैसे ही करेगा। 


अब डैल धीरे-धीरे उस घर में एडजस्ट होने लगता है। उसकी स्वाभाव भी बदलने लगती है।  वो अब सीरियस होता है।  अब डैल  फ़िलिप की जिंदगी को जानने लगता है, दोनों अच्छे दोस्त बनते हैं। इस काम के लिए डैल को हर हफ्ते लगभग $2600 मिलते थे।


अब डैल ,  फ़िलिप को लेकर आर्ट  एक्सहिबिशन में जाता है। फ़िलिप के पास लगभग एक दर्जन स्पोर्ट्स कार थी और एक वैन जो विकलांगों की ज़रूरत से मॉडिफाइड कीथी। अब फिलिप वही वैन को उसे करता था बाकी सभी स्पोर्ट्स कार यूज़ नहीं कर था।  डैल कहता है कि वह उसे बेकार की वैन में नहीं लेजायेगा  बल्कि एक लग्जरी स्पोर्ट्स कार में ले जाएगा ।


आर्ट एग्जीबिशन में फ़िलिप $80000 देखकर एक पेंटिंग खरीदा है।  जिस पर डैल कमेंट करता है कि वह पागल  हो गया है। ऐसी फालतू आर्ट वर्क  के लिए कोई उतने पैसे थोड़ी  खर्च करता है। यदि  उसके पास  80000 डॉलर  होते तो  उसकी दुनिया बदल जाती।  फ़िलिप कहता है कि किसी भी आर्ट  की कीमत जब तक उसे नहीं दी जाएगी तब तक उसका मूल्य पता नहीं चलेगा । वह कहता है कि वो पेंटिंग  उसकी बीवी को बहुत पसंद था इसलिए उसने उसे  खरीदा है। फ़िलिप उन किताबों की कलेक्शन के बारें में बी बात करता है जिसके एक बुक को डैल ने चुराया था। वो किताब भी उसकी वाइफ की गिफ्ट्स थी।


डैल अपनी पहली हफ्ते की बुरी कमाई को अपनी पत्नी लेट्रिस को देने जाता है।  उससे कहता है कि जो बुक उसने अपने बेटे को दिया था उसेवो अब  वापस चाहिए।  लेट्रिस  उस पर गुस्सा होकर पूछती है क्या उसने उस को चुराया था?  वो केहेती है की अपने बेटे से किताब नहीं मां गेगी। उसको अपना कांड खुद सुलझाना होगा।


एक रात को डैल अपने बिस्तर पर सो रहा था तभी उसे अपनी पेजर पर फ़िलिप की जोर जोर से सांस लेने की आवाज सुनाई देती है। वह उसके कमरे में जा कर देखता है तो फ़िलिप को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। वह उसे ऑक्सीजन मास्क लगाकर उसे बचाने की कोशिश करता है। पर फ़िलिप उसे मना करता है अपना सर हिला कर। आंखों से मैं मना करता ही रहता है पर डैल उसे जोर से कहता है कि मुझे इस  जॉब की  जरूरत है इसलिए उसे जिंदा रहना होगा ।  यदि वह ऑक्सीजन मास्को नहीं  पेहेनेगा तो वो  सीपीआर करेगा।


फ़िलिप  नाराज होकर ऑक्सीजन मास्को पेहेनता है।  कुछ देर बाद उसकी हालत सुधर जाती है। अब डैल  उसको  बाहर लेकर जाता है अच्छी हवा केलिए और पूछता है कि क्या उसे अक्सर ऐसा होता है?  फ़िलिप कहता  है कभी कबार उसे ऐसा होता है, उसके पैरों का  दर्द जब बढ़ जाता है तब , तो उसे ऐसा होता है। अब  डैल  उसे सिगरेट देता है ताकि वो थोड़ा रिलैक्स हो जाए । अब दोनों खाने केलिए  एक फास्ट फूड रेस्टोरेंट जाते हैं। वहां पर डैल हॉट डॉग ऑर्डर करता  है।


काउंटर पर फ़ूड देने वाला डैल से पूछता है कि इनके लिए क्या चाहिए ? तब डैल  कहता है की  मुझसे क्यों पूछ रहे हो ?  उनसे पूछो वह भी एक इंसान ही है ,वह बात कर सकते हैं। वह चल नहीं सकते पर बात तो कर सकते हैं। कॉउंटरवाला फिलिप से सॉरी कहकर पूछता है कि उन्हें  क्या चाहिए? . फ़िलिप  15

 हॉटडॉग आर्डर करता है सभी को टेस्ट करता है।


 डैल फिलिप से पूछता है कि उसने उतना पैसा कैसे बनाया ? क्या उसके पिताजी  उसके लिए बहुत से पैसे छोड़  कर गए थे?.  फ़िलिप कहता है कि उसके पिताजी ने उसके लिए कोई  पैसे भी नहीं छोड़ा था।  सारा पैसा उसने खुद कमाया था। वो कहता है की उसने  स्टार्टअप कंपनी में इन्वेस्ट करके उतना पैसा कमाया था। अब उसका कोई फायदा नहीं। मेरी  बीवी जेन्नी ,को कैंसर हो गया था उसको उस दुख भरी वातावरण से बाहर निकालने के लिए मैंने  पैराग्लाइडिंग  करने का डिसीजन लिया था।  लेकिन  वो डिसीजन महंगा पड़ा। पैराग्लाइडिंग की एक्सीडेंट में,में  विकलांग हो गया  और उसके बाद मेरी बीवी भी गुजर गई। अब अकेला हूँ ।  इसी बीच डैल उसे एक बिजनेस आइडिया प्रपोज़ करता है।  एक ऐसा मोबाइल ऐप जो आपको अपनी नजदीकी ड्रग डीलर के बारे में बताएं। उसे वो i deal  का नाम देता है , i phone की तरह।  फ़िलिप आईडिया को सुनकर हँसने लगता है और उसे घर ले जाने के लिए कहता है। डैल अब अगले कुछ दिनों तक कई  नहीं बिजनेस आइडिया को प्रपोज करता है पर कोई भी प्रेक्टिकल नहीं थी। पर फिर भी वो  अपनी कोशिश जारी रखता है। 


फ़िलिप को ओपेरा म्यूजिक सुनना बहुत पसंद था। इसलिए वो  डैल को लेकर ओपेरा  देखने जाता है। डैल को पता नहीं था कि ओपेरा क्या होता है। डैल  पेहेले उन  कलाकारों का मजाक उड़ाता है। जब स्टेज पर सिंगर गाने  लगती है तो म्यूजिक  डैल को बहुत पसंद आता है , गाना ख़त्म होने के बाद वह खड़ा होकर सिटी मारने लगता है।  अमेरिका में ओपेरा देखने के लिए  अमीर लोग ही जाते हैं क्योंकि उसका टिकट बहुत ही मेहेंगा  होता है और वहां पर ऐसे सीटी नहीं बजाते। सब्य  तरीके से ताली बजाते हैं। डैल की सीटी बजाने की  आदत को देखकर सभी लोग थोड़ा सरप्राइस होते है ।

अब डैल ओपेरा म्यूजिक से प्रेरित होकर घर में फ्री टाइम में पेंटिंग करने लगता है।

कुछ दिन बाद फ़िलिप और डैल   फिर से एक लॉन्ग ड्राइव पर निकलते हैं। इस बार वह डैल के बेटे के स्कूल को जाते। डैल अपने बेटे को पिकअप करता है और वो लोग एक रेस्टोरेंट में  खाना खाते हैं। खाना खाने के बाद डैल अपने बेटे से बुक को वापस मांगता  है। उसका बेटा एंथोनी पूछता है क्या उसने उस अमीर आदमी से उसको चुराया था ?। एंथनी  गुस्से में उस किताब को फ़िलिप को देता है। डैल फिलिप से  माफी मांगता है। वह कहता है कि  उसने उसे नौकरी मिलने से पहले चुराया था क्योंकि उस दिन उसके बेटे का बर्थडे था। अब फ़िलिप डैल को  माफ करता है।


फ़िलिप का लिल्ली , नाम के एक लेडी के साथ रिलेशनशिप था वो सिर्फ एक एपिस्टलरी रिलेशनशिप था , यानी वो दोनों  एक दूसरे को सिर्फ लेटर लिख कर  अपना  सम्भंद बनाया था।  वो रिस्ता एक साल से  चालू था।  कुछ  महीने से फिलिप ने लिल्ली को लेटर नहीं लिखा था , अब डैल के आने के बाद वो फिर से लेटर लिखने लगता है। डैल इवान से कहता है कि उसकी वजह से ही फ़िलिप की जिंदगी में खुशियां वापस आई है और वह उस लेडी  से फिर से कांटेक्ट  करने लगा है। इवान  कंट्रीब्यूशन को मानती है। 


डैल को पता नहीं था की  फ़िलिप का संबंध केवल लेटर तक ही सीमित था। फ़िलिप ने कभी भी उस लेडी  का चेहरा तक देखा नहीं था। डैल को ये  सुनकर थोड़ा  हैरानी होती है। अब डैल , फिलिप और इवान के मना करने के बावजूत भी लिल्ली को फ़ोन लगाता है और फिलिप को बात करने केलिए देता है।  फिलिप  एक मैसेज छोड़कर फ़ोन बंद करता है।  


अगले दिन डैल अपने कुत्ते की पेंटिंग को सब को दीखाता है , वो एक बेकार पेंटिंग था , पर  सभी लोग उसकी मन  रखने केलिए उसे ठीक ठाक  कहतें है। 


कुछ दिन बाद  फ़िलिप के  बर्थडे पर  इवान  एक सरप्राइज बर्थडे पार्टी  रखती है। फ़िलिप के मना करने के बावजूद भी उसने एक सरप्राइज पार्टी रखा था।  फिलिप ये सब देखकर बहुत गुस्सा होता है और वह इवान पर अपनी गुस्सा उतारता है। डैल को भी गुस्से में  डांटता है। डैल और फिलिप  के बीच थोड़ा बहस  होता  है। फिलिप ऐसे हालत में लोगों से मिलना नहीं  चाहता था , वो अकेले ही रेहना चाहता था। पर  बाद में डैल पार्टी में जाने के लिए मान जाता है। पार्टी में सभी लोग एंजॉय करते हैं, डैल  भी डांस करता है , इवान भी डांस करती है। &


फ़िलिप , डैल की बेकार पेंटिंग को अपने पडोसी को दिखाकर कहता है की ये एक मशहूर , गुमनाम आर्टिस्ट ने बनाया है। यदि वो चाहे तो वो उससे खरीद सकता है , बाद मे  कीमत बढ़नेवाली है। वो पडोसी हमेशा फ़िलिप को  डैल को निकालने केलिए कहता रेहता था क्यंकि वो  अपराधी था।  फिलिप पेंटिंग को  50000 डॉलर में बेचता है। 


अब फ़िलिप को लिल्ली का फ़ोन आता है , वो उससे मिलाना  चाहती थी।  अगले दिन डैल , फ़िलिप को लेकर एक रेस्टोरेंट में जाता है जहां पर उसने  रिजर्वेशन करवा कर रखा था।  अब लिल्ली और फिलिप  बातें करने लगते हैं , लिल्ली को फिलिप  की हालत के बारे में मालूम था। वो कहती है कि उसकी हालत उसके सोचने से भी बहुत बुरी है।  लिल्ली उससे ब्रेकअप करती है। फ़िलिप को  यह बात सुनकर थोड़ा बुरा लगता है और वह गुस्से में वहां  से चलाजाता है। 


फ़िलिप अब अपनी  ब्रेकअप  के गुस्से को  डैल पर उतरता है। वो कहेता  है की उसके मना करने के बावजूद  भी उसने लिल्ली को फ़ोन लगाया।  अब वो डैल को नौकरी से निकाल देता है।  डैल जाते वक्त उसे कहता है कि वह एक अपराधी था, जिस पर उसे हमेशा  शर्म  रहेगी , लेकिन वो  जिंदगी में आगे बढ़ रहा है। अपनी गलती से सीख कर जिंदगी में आगे बढ़ रहा है। वो फ़िलिप  से कहता है की वो डर में जिरहा है , आगे नहीं  बढ रहा। अब डैल वहां से चला  जाता है।  जाते वक़्त इवान उसे 50000 डॉलर का   चेक देती है।  


डैल उस चेक को लेकर एक अच्छी लोकेलिटी में एक अच्छा  घर खरीदता है। उसकी पत्नी और  बेटे को वो घर भेंट करता है। अब  उसकी पत्नी उसे  माफ करके उसी  घर में ही रहने के लिए परमिशन देती है। अब डैल एक ऑटोमोबाइल गेराज में काम करने लगता है।


इधर फ़िलिप अपनी नाराजगी जारी रखता है और सब से बात करना छोड़ देता  है। बहुत दुख में  किसी से भी बात नहीं करता।   कुछ दिनों तक ऐसे ही चलता रहता है , इवान भी परेशान होकर  जॉब को छोड़ कर चली जाती है।  एक दिन फिलिप की नर्स मैग्गी , डैल के पास आकर कहती है कि फ़िलिप की हालत बेहद खराब है। वह उसे फिर से वापस आने के लिए कहती है। डैल  फ़िलिप के घर आकर उसे जबरदस्ती उठाकर एक लग्जरी स्पोर्ट्स कार में बिठाता है।  फिल्म की कहानी अब पहले सीन से शुरू होती है  जहाँ  वो दोनों कार में बैठे है ।


 फ़िलिप और डैल  हॉस्पिटल से भागकर शहर से दूर चले जाते हैं। डैल  फ़िलिप को लेकर उसी जगह आता है जहां पर उसका एक्सीडेंट हुआ था।  उसे फिर से पैराग्लिडिंग करने के लिए केहेता है।  ताकि उसके मन से डर हमेशा के लिए निकल जाए और वह जिंदगी में आगे बढ़े। फ़िलिप मान कर , डैल को भी आने के लिए कहता है। डैल  घबराकर मना करता है, पर आखिरकार  फ़िलिप को सपोर्ट करने के लिए पैराग्लाइडिंग करता है। डैल  आसमान में चिल्लाने लगता है। 


आखिरकार दोनों नीचे आते हैं। इवान  भी वहां आती है। कई महीनों के बाद इवान  और फ़िलिप फिर से बैठ कर बात करते हैं। फ़िलिप उससे  माफी मांगता है।   फिल्म यही ख़त्म होती है। ये  फिल्म  यह सीख देती है कि जिंदगी में हमेशा आगे बढ़ने के लिए दूसरे मौके जरूर मिलते हैं। उस मौके का सही उपयोग सभी को  करना चाहिए।